सादर ब्लॉगस्ते पर आपका स्वागत है।

सावधान! पुलिस मंच पर है

Thursday, March 13, 2014

बेदागों के दाग ...........


कुछ समय पहले हम सभी टेलीविजन में चल रहे विज्ञापन से काफी प्रभावित हो रहे थे.याद होगा आप सभी को लोकप्रिय विज्ञापन सर्फ एक्सेल का............. जिसकी टैग लाइन थी. "दाग अच्छे है..." अब इस विज्ञापन से आजकल लगता है. हमारे देश की सभी राजनीतिक पार्टीयां भी प्रभावित हो गयी है.......जो अब तक भ्रष्टाचार, और घोटालों से दूर रहने और दागियों को टिकट ना देने का राग अलाप रहे थे. वो भी अब अपने राग को भूल कर नए गीत को अपना रहे है....... "दाग अच्छे है"............ क्यों ना हो आखिर चुनावी बयार का आलम है. जहाँ जीत से बढ़कर कुछ और मंज़ूर नहीं, इस लिए देश की दो बड़ी राजनीतिक पार्टियों ने दागियों को टिकट देकर अपने लक्ष्य की ओर एक और कदम बढाया है.जिनमे प्रमुख नामों में रलवे भर्ती घोटाले में लिप्त पुर्व केन्द्रीय रेल मंत्री पवन बंसल, वही बीजेपी ने भी बी श्रीरामुलु को टिकट देकर एक बार फिर घोटालों और भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों से दोस्ताना निभाया है. क्योंकि इस चुनावी महासंग्राम को जीतने के लिए सारे तरीके अपनाने में कैसा परहेज़........ भले ही वो हमारी बेदाग छवि पर असर क्यों ना डाल दे.आगे देखना काफी दिलचस्प होगा कि इस महासमर में और क्या क्या नए युद्ध कौशल देखने मिलते है.