सादर ब्लॉगस्ते पर आपका स्वागत है।

सावधान! पुलिस मंच पर है

Thursday, October 25, 2012

लक्ष्मी शंकर वाजपेयी को मिला साहित्य परिमल सम्मान



चित्र फोटोग्राफर हरीश कुमार से साभार 
दिल्ली:  20, अक्टूबर, 2012 को इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में आयोजित सम्मान समारोह में गैमट फ़ाउण्डेशन द्वारा श्री लक्ष्मी शंकर वाजपेयी को साहित्य परिमल सम्मान 2011-12 से सम्मानित किया गया । फ़ाउण्डेशन द्वारा वाजपेयी जी को सम्मान के प्रतीक रूप में शाल, श्रीफल,  सम्मान पत्र व सम्मान राशि के रूप में 51000/- रूपये भी प्रदान किये गये । उन्होंने सम्मान राशि को सहर्ष गैमट फ़ाउण्डेशन को ही वापस कर दिया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष श्री  योगानंद शास्त्री थे तथा कार्यक्रम की अध्यक्षता की उत्तर प्रदेश के हिन्दी संस्थान के अध्यक्ष व वरिष्ठ कवि श्री उदय प्रताप सिंह ने । सम्मान समारोह कार्यक्रम का संचालन किया सुश्री सरला माहेश्वरी ने सम्मान समारोह एवं योगानंद शास्त्री जी के लंबे से भाषण के उपरांत एक कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया, जिसका संचालन श्री  धनंजय सिंह ने किया । कवि सम्मेलन में सर्वश्री उदय प्रताप सिंह, बाल स्वरूप राही, किशन सरोज, लक्ष्मी शंकर वाजपेयी, ब्रज किशोर, डॉ.अश्वघोष, विजय पाल सिंह, अरुण भारती तथा सुश्री ममता किरण इत्यादि कवियों ने अपनी रचनाओं का पाठ किया । ममता किरण जी की कविता "स्त्री और नदी" को जहाँ खूब तालियाँ मिलीं वहीं लक्ष्मी शंकर वाजपेयी जी के फेसबुक व सामाजिक संबंध पर आधारित दोहे व गजलों ने दर्शकों की वाहवाही बटोरी ।  इस प्रकार गैमट फ़ाउण्डेशन के अध्यक्ष श्री दुष्यंत कुमार के संयोजन में सम्मान समारोह व कवि सम्मेलन का आयोजन सफल रहा । 

सादर ब्लॉगस्ते से रपटकार संगीता सिंह तोमर